Saturday, May 14, 2016

Some Proven Herbal Remedies for Male Sexual Disorders (Purush Rogon ke Liye Azmaaye Hue Nuskhe)



Dear Readers, 
I am going to post some easy and proven herbal (Ayurvedic) remedies for Men related disorders in this post. These remedies have been tried on thousands of people and proved to be very helpful. I hope all the Male readers will get benefited from this post. 
(Android users who are watching this post through my app (Astro Junction App) on their smartphones, should click on the title of the post above to see the complete post.)

Night Fall (Wet Dreams):  

This is a very common problem especially among adolescents. Ayurveda considers the semen as the foundation of a man's health. If a man indulges in sexual intercourse very frequently, he wastes one of most vital liquid of his body. Same happens in case of masturbation and wet dreams as well. It directly affects the physical as well as mental health. Preservation of semen results in strong inner power and energy. 
Night fall can be avoided by changing the thoughts. It is not a physical problem as such but a problem related to thoughts. 

One should keep his thoughts clean.

Avoid watching anything on TV which promotes sexual thoughts in one's mind.

Extremely spicy food, Black gram (Urad Daal), stale food, deep fried food, smoking, alcohol consumption, porn literature and movies etc. aids in destruction of semen and night fall.

One should remember God with heart and soul in the night just before  sleeping.

One should have light food in the dinner and dinner should be taken at least 2 to 3 hours before sleeping. 

One should wash hands, feet and the private parts in the night before sleeping.

One should keep a watch on bowel movements and avoid constipation at all costs. 

Remedy for Night Fall: 

Ashwagandha: 50 grams    



Shatavari: 50 grams


white musli: 50 grams





Crystallized sugar lumps(Misri): 150 grams

Take all these herbs. You can even take powder forms of these herbs. Mix them together and add the misri to it. Two teaspoons of this preparation should be taken daily in the morning as well as in the evening with milk. This is a wonderful remedy to thicken the semen and hence prevent its loss. This remedy is also very helpful in premature ejaculation, erectile dysfunction and impotency.

Premature Ejaculation: 

White Musli Powder: 50 grams


Kaunch Seeds Powder: 50 Grams 


Mix both the herbs together. Take 1 teaspoon of this preparation and boil in the milk. Then Drink this milk. Milk should not be filtered.

Hydrocele (Enlargement of Testicles):

1) Mango Leaves: 25 grams

 
 Sendha Namak( Rock Salt Powder): 10 Grams


Both should be finely grounded and then slightly heated. The heated pulp should be applied on the affected testicle. If it is done daily, it can completely cure the problem. 

2) If testicles get enlarged and swollen with water then one should eat 5 to 6 raisins daily in the morning.

3) If testicles of a child get enlarged, toor daal (Split Pigeons Peas) should be soaked in the water overnight. In the morning, ground the daal into a fine paste, heat it slightly and then apply this warm paste on the testicles.

Impotency/Erectile Dysfunction:

Ashwagandha Powder: 10 grams    

Boil it in half a liter of cow milk.Keep boiling for the next 10 minutes. Then add honey to it and drink it lukewarm. If this is done continuously for 40 days, it considerably increases the sexual strength.

Note: Sour foods make the semen thin and hence decrease sexual strength. So sour foods should be avoided as much as one can.

प्रिय पाठकों 

इस पोस्ट में मैं कुछ आयुर्वेदिक उपाय देने जा रहा हूँ पुरुषों से सम्बंधित कुछ समस्याओं के लिए । ये उपाय हज़ारों लोगों के ऊपर आज़माएं जा चुके हैं और बहुत ही अच्छे परिणाम मिले हैं । मैं आशा करता हूँ की सभी पुरुष पाठक इन उपायों से लाभ उठा सकेंगे । 

स्वप्नदोष: 

यह बहुतायत  में पायी जाने वाली समस्या है खासतौर से किशोरों में । आयुर्वेद वीर्य को एक पुरुष की सेहत की नींव मानता है । अगर एक व्यक्ति सम्भोग में हर समय  लिप्त रहता है तो वह अपना बहुत सारा वीर्य इस कार्य में नष्ट कर देता है । सिर्फ सम्भोग में ही नहीं बल्कि हस्तमैथुन में और स्वप्नदोष में भी बहुत वीर्य नष्ट हो जाता है । इसका सीधा असर पुरुष के स्वास्थय पर होता है । वीर्य का संरक्षण करने से आत्मिक और शारीरिक ऊर्जा पैदा होती है । 

स्वप्नदोष कोई शारीरिक समस्या नहीं है । बल्कि यह विचारों से पैदा होती है ।

अपने विचार साफ़ और पवित्र रखने चाहिए । 

टीवी पर ऐसे कोई भी प्रोग्राम न देखे जिससे मन में वासना वाले विचार उत्पन्न हों । 

गरिष्ठ भोजन, बहुत तेल और मसालों से बना हुआ या तला हुआ या बासी भोजन न करें । उड़द की दाल (लेकिन उरद की दाल से बना लडडू बहुत अच्छा होता है), धूम्रपान, शराब, अश्लील साहित्य या फ़िल्में आदि वीर्य को नष्ट करने में सहायक होती हैं अतः इनसे बचें । 

सोने से पहले पूरे मन से अपने ईष्ट का स्मरण करें । 

रात का खाना हल्का और सुपाच्य लें और सोने से कम से कम 2 से 3 घंटे पहले खा लें । 

रात में सोने से पहले अपने हाथ, पैर और गुप्त अंगों को धोकर सोएं । 

कब्ज़ कभी न होने दें ।

स्वप्नदोष के उपाय: 

अश्वगंधा: 50 ग्राम 



शतावरी: 50 ग्राम 



सफ़ेद मुसली: 50 ग्राम 




मिश्री: 150 ग्राम

इन सभी जड़ी बूटियों के चूर्ण को आपस में मिला लें और इसमें पीसी हुई मिश्री भी मिला दें । इस सम्मिश्रण की एक चम्मच सुबह और एक चम्मच शाम को गरम दूध साथ लें । यह वीर्य को गाढ़ा करके उसे पुष्ट करने की चमत्कारी औषधि है । गाढ़ा होने की वजह से वीर्य का नाश नहीं होता । यह उपाय शीघ्र पतन, स्तम्भन दोष और नपुंसकता में भी बहुत प्रभावी है ।

शीघ्र पतन: 

सफ़ेद मुसली: 50 ग्राम



कौंच बीज चूर्ण: 50 ग्राम



दोनों जड़ी बूटियों के चूर्ण को आपस  लें । इस सम्मिश्रण का एक चम्मच दूध में डालकर दूध को उबालें और फिर इस दूध को बिना छाने पीएं ।

अंडकोष वृद्धि: 

1) आम के पत्ते: 25 ग्राम 

2) सेंधा नमक : 10 ग्राम


इन दोनों को पीस कर इनका चूर्ण बना लें । इस चूर्ण को लोहे के बर्तन में हल्का गर्म कर लें । इस हल्की गर्म लुगदी का लेप अंडकोष पर करना चाहिए । अगर इसे रोज़ किया जाए तो कुछ ही दिन में इस समस्या से निजात पाया जा सकता है ।

2) अगर अंडकोष सूज जाए और उनमे पानी भर जाए तब पीड़ित व्यक्ति को रोज़ सुबह 5 - 6 किशमिश खानी चाहिए । गर्मी के दिनों में इसे रात में भिगो देना चाहिए और सुबह खाना चाहिए ।
3) अगर किसी बच्चे के अंडकोष सूज गए हों तो तूर (अरहर) की दाल को रात में भिगो देना चाहिए और सुबह इसे पीसकर पेस्ट बना लें । इस पेस्ट को हल्का गर्म करके बच्चे के अंडकोष पर लेप करें ।

नपुंसकता और स्तम्भन दोष: 

अश्वगंधा चूर्ण: 10 ग्राम 



इसे आधा लीटर गाय के दूध में मिलाकर 10 मिनट तक उबालें । इसके बाद इसमें स्वादानुसार शहद मिला लें और गुनगुना पीएं । इसे लगातार 40 दिन तक पीने से यौन शक्ति में अत्यधिक वृद्धि होती है । 

नोट: खट्टे पदार्थ वीर्य को पतला करके यौन शक्ति को कम करते हैं इसलिए खट्टे पदार्थ कम से कम खाने पीने चाहिए

##########################################################

If you liked this article and this blog then please leave a review on Google by clicking on this link and on Facebook by clicking on this link 

अगर आपको ये लेख और ये ब्लॉग पसंद आया तो अपने विचार गूगल पर व्यक्त करें इस लिंक पर क्लिक करके और फेसबुक पर व्यक्त करें इस लिंक पर क्लिक करके ।

##########################################################

Gaurav Malhotra

About the Author:

Gaurav Malhotra is a B Tech in Comp. Engg. from National Institute of Technology (NIT, Kurukshetra) and a passionate follower of Astrology. He has widely traveled across the world and helped people with his skills. You can contact him at +91-9211921182 or on his email jyotishremedy@gmail.com. You can also read more about him on his page. This is his Facebook page. 
  


No comments:

Post a Comment

I get huge no. of comments everyday and it is not possible for me to reply to each and every comment due to scarcity of time. I will try my best to reply at least a few comments everyday.

ShareThis